औरंगाबादगोपालगंजताजा ख़बरेंदेशनालंदापटनापश्चिमी चम्पारणपूर्णियापूर्वी चम्पारणबड़ी ख़बरेंबाँकाबिहारबेगूसरायब्रेकिंग न्यूजभागलपुरमुजफ्फरपुरमौसमराज्यसीतामढ़ीसीवान

शीतलहर से कांपा बिहार, आज से चार दिनों तक 11 जिलों में बारिश और ओला गिरने का अलर्ट

शीतलहर से कांपा बिहार, आज से चार दिनों तक 11 जिलों में बारिश और ओला गिरने का अलर्ट

शीतलहर से कांपा बिहार, आज से चार दिनों तक 11 जिलों में बारिश और ओला गिरने का अलर्ट

God Grace
IMG-20220416-WA0010

सूबे में ठंड और बढ़ने वाली है। चार दिन से कनकनी और कोल्ड डे झेल रहे जिलों में अब बारिश के आसार बन रहे हैं। मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी कर 21, 22, 23 और 24 जनवरी को कई जिलों में बारिश, मेघ गर्जन और ओलावृष्टि की आशंका जतायी है। मध्य प्रदेश की ओर चक्रवातीय स्थिति बनने और उसके एक-दो दिनों में बिहार की ओर बढ़ने से बारिश की स्थिति बनेगी। 21 जनवरी को बिहार के 11 जिलों में आंशिक बारिश का अलर्ट है। इन जिलों में पश्चिमी चंपारण पूर्वी चंपारण, सीवान, सारण, गोपालगंज, बक्सर, आरा, अरवल, रोहतास, भभुआ और औरंगाबाद में हल्की बारिश होने की संभावना है।

2021-02-27

वहीं, 22 और 23 को पटना समेत सूबे के ज्यादातर हिस्सों में गरज के साथ बारिश होने का पूर्वानुमान है। इन सभी जिलों में ओला गिरने और गरज-तड़क के साथ बिजली गिरने का भी अलर्ट है। 24 को मध्य बिहार और पश्चिमी बिहार में कुछ जगहों पर बारिश हो सकती है।

lucent mishrabatraha
IMG-20220415-WA0041

25 जनवरी से मौसम के साफ होने के आसार हैं। हालांकि, उसके बाद भी ठंड की स्थिति सूबे में बनी रहेगी। हालांकि बादलों के आने से सूबे के शहरों के न्यूनतम पारा में 2 से 3 डिग्री की बढ़ोतरी हो सकती है, जबकि अधिकतम पारे में आंशिक गिरावट दर्ज होगी।

गया, फारबिसगंज और दरभंगा में प्रचंड ठंड

गुरुवार को गया राज्यभर में सबसे ठंडा रहा। यहां का न्यूनतम पारा 4.6 डिग्री रिकार्ड किया गया जो सामान्य से 4 डिग्री कम है। चालू मौसम में बिहार के साथ-साथ गया में सबसे ठंडी रात रही। इससे पहले बीते मंगलवार को गया का न्यूनतम परा 5.1 डिग्री दर्ज किया गया था। गुरुवार को गया, फारबिसगंज और दरभंगा में भारी शीत दिवस घोषित किया गया। वहीं पटना, भागलपुर, पूर्णिया, छपरा और मोतिहारी में कोल्ड डे रहा।

पटना में रही सबसे ठंडी रात
चौबीस घंटे में पटना का न्यूनतम पारा 3.2 डिग्री लुढ़क गया और 6.6 डिग्री पर पहुंच गया। वर्ष 2022 में पटना की यह सबसे ठंडी रात रही। गुरुवार की रात पटना का दर्ज न्यूनतम पारा सामान्य से 2 डिग्री कम पर आ गया। पहले 19 दिसंबर 2021 को पटना का न्यूनतम पारा 7.6 डिग्री रिकार्ड किया गया था। पटना में गुरुवार को धूप निकली और अधिकतम पारा 2 डिग्री बढ़ गया। राजधानी का अधिकतम तापमान 16.8 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 5 डिग्री कम है।

गया सबसे सर्द पर अधिकतम पारा चढ़ा

गया के अधिकतम पारा में 4.2 डिग्री की बढ़ोतरी के साथ यह 19.5 डिग्री रहा जो सामान्य से 3 डिग्री कम है। भागलपुर का न्यूनतम पारा सामान्य से 3 डिग्री कम 8.9 रहा, जबकि अधिकतम पारा सामान्य से 5 डिग्री कम 17.3 डिग्री रहा। पूर्णिया का न्यूनतम पारा सामान्य से दो डिग्री अधिक 9.8, रहा जबकि अधिकतम पारा सामान्य से 5 डिग्री कम 17.6 डिग्री रिकार्ड किया गया। गुरुवार को सबसे अधिक अधिकतम पारा बांका में 20.9 और सबसे कम अधिकतम पारा पूसा में 15.2 डिग्री रहा।

13 जिलों का न्यूनतम पारा 10 से नीचे

सूबे के 13 जिलों में रात काफी सर्द रही और न्यूनतम तापमान दस डिग्री से भी नीचे रहा। इनमें गया का न्यूनतम पारा 4.6 डिग्री रहा। इसके अलावा औरंगाबाद में 5.1, नवादा का 6.1, नालंदा का 6.5, पटना का 6.6 डिग्री, बक्सर का 7.5 डिग्री, बांका का 8.1 डिग्री, भागलपुर का 8.9 डिग्री, बेगूसराय का 9.6 डिग्री, पूर्णिया का 9.8 डिग्री जबकि अररिया, मुजफ्फरपुर और सीतामढ़ी का न्यूनतम पारा 9.9 डिग्री दर्ज किया गया।

पछुआ हवा ने किया परेशान
तेज पछुआ हवा के कारण भागलपुर समेत पूर्णिया व अररिया जिले में गुरुवार को शीतलहर चली। गुरुवार को 17.0 किमी प्रति घंटे की औसत रफ्तार से चली पछुआ हवा ने लोगों को ठिठुरा दिया। धुंध ने पूर्वाह्न 11 बजे तक सूरज की तपिश को कुंद कर दिया था। इसके बाद धूप निकली भी तो घर से बाहर निकले लोग बर्फीली पछुआ हवा के कारण कांपने लगे।

भारतीय मौसम विभाग के अनुमानों की मानें तो शुक्रवार को भी शीतलहर चलने की संभावना है। इसके बाद हवा का रुख बदलेगा और दिन-रात के मौसम में सुधार होगा। 24 को संभावित हल्की बारिश के कारण 24 जनवरी से एक बार फिर ठंड का प्रकोप बढ़ने की संभावना है। कोसी, सीमांचत व पूर्वी बिहार के अन्य जिलों में भी कड़ाके की ठंड के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त रहा। अररिया में गुरुवार को अधिकतम तापमान 15 डिग्री व न्यूनतम 9 तो पूर्णिया में तापमान क्रमश: 16 व नौ डिग्री सेल्सियस रहा

एक माह बाद रात में फिर पड़ी कड़ाके की ठंड

बीते 24 घंटे के मौसम की बात करें तो इस दौरान दिन के तापमान में कोई परिवर्तन नहीं हुआ लेकिन रात का पारा 0.7 डिग्री सेल्सियस और लुढ़क गया। गुरुवार को अधिकतम तापमान 17.0 डिग्री सेल्सियस रहा जो कि सामान्य से छह डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। जबकि न्यूनतम तापमान 8.9 डिग्री सेल्सियस रहा जो कि सामान्य तापमान से तीन डिग्री सेल्सियस रहा। गुरुवार रात में एक माह में दूसरी बार सबसे ज्यादा ठंड पड़ी। इससे पहले 20 दिसंबर को न्यूनतम तापमान 8.4 डिग्री सेल्सियस पर पहुंचा था।

इसके बाद कभी भी रात का पारा नौ डिग्री सेल्सियस से नीचे ही नहीं आया। रात में ओस पड़ने व सुबह में हल्का कोहरा होने के कारण गुरुवार की सुबह साढ़े आठ बजे 95 प्रतिशत रही आर्द्रता रही, जो शाम साढ़े पांच बजे तक कम होकर 86 प्रतिशत पर आ गयी। दिन भर 17.0 किमी प्रति घंटे की औसत रफ्तार से पछुआ हवा चली।

23 जनवरी को हल्की बारिश की संभावना

मौसम वैज्ञानिक डॉ. बीरेंद्र कुमार ने बताया कि गुरुवार को प्राप्त मौसमी मॉडल एवं उपग्रहीय तस्वीरों से पता चलता है कि अभी भागलपुर में सतह से 0.9 किमी ऊपर तक पछुआ हवा का तेज प्रवाह है। तेज हवा के कारण भागलपुर में शुक्रवार को भी शीतलहर पड़ने की संभावना है। इसके बाद दिन-रात के तापमान में वृद्धि एक से दो डिग्री सेल्सियस तक वृद्धि होगी। लेकिन 23 जनवरी को गरज के साथ बौछारें पड़ने के कारण मौसम एक बार फिर सर्द हो सकता है।

3
Back to top button
error: Content is protected !!
Close