उत्तर प्रदेशताजा ख़बरेंबलियाब्रेकिंग न्यूजराज्य

महासंघ के मण्डल महामंत्री अनिल वर्मा का बलिया जनपद में हुआ भव्य स्वागत

महासंघ के मण्डल महामंत्री अनिल वर्मा का बलिया जनपद में हुआ भव्य स्वागत
• अनिल वर्मा के मंडल महामंत्री बनने से संगठन हुआ और मजबूत: राजेश
• शिक्षकों का शोषण एवं उत्पीड़न किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं: अनिल वर्मा

God Grace
IMG-20220416-WA0010

बलिया: राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश प्राथमिक संवर्ग के प्रदेशीय नेतृत्व द्वारा बलिया जनपद के रसड़ा शिक्षा क्षेत्र के आदर्श शिक्षक अनिल कुमार वर्मा को आजमगढ़ मंडल के महामंत्री पद पर नियुक्त किए जाने के बाद जनपद के शिक्षकों ने जहां महासंघ के प्रदेश नेतृत्व का आभार प्रकट किया वही महासंघ के जिला संयोजक राजेश कुमार सिंह के नेतृत्व में जनपदीय कार्यकारिणी ने नवनियुक्त मंडल महामंत्री अनिल कुमार वर्मा को फूल मालाओं से लादकर भव्य स्वागत भी किया।

2021-02-27

श्री वर्मा बलिया जनपद के रसड़ा शिक्षा क्षेत्र के आदर्श प्राथमिक विद्यालय भीखमपुर पर बतौर प्रधानाध्यापक कार्यरत है और इन्हें बेसिक शिक्षा में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए राज्य स्तर पर उत्कृष्ट शिक्षक पुरस्कार एवं उत्कृष्ट विद्यालय पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है। बुधवार को जिला संयोजक राजेश कुमार सिंह के नेतृत्व में जनपदीय कार्यकारिणी सहित विकास खंडों के संयोजक एवं सहसंयोजकों की उपस्थिति में श्री वर्मा को माल्यार्पण कर भव्य स्वागत किया गया।

lucent mishrabatraha
IMG-20220415-WA0041

इस अवसर पर जिला जिला संयोजक राजेश सिंह ने कहा की अनिल वर्मा के मंडली महामंत्री बनने से संगठन और मजबूत होगा तथा सांगठनिक कार्यों को और धार मिलेगी।

नवनियुक्त मंडल महामंत्री अनिल वर्मा ने कहा कि संगठन द्वारा शिक्षक राजनीति में स्वस्थ परंपरा का प्रवाह किया जाएगा तथा शिक्षकों का शोषण एवं उत्पीड़न किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। शैक्षिक महासंघ शिक्षकों एवं शिक्षक प्रतिनिधियों का सम्मान न करने वाले अधिकारियों के खिलाफ मुखर विरोध करेगा।

स्वागत करने वालों में प्रमुख रूप से जिला संयोजक राजेश सिंह, जिला सहसंयोजक कृष्णानंद पांडेय, बृजेश राम,अमरेंद्र सिंह, प्रमोद सिंह,पिंकू उपाध्याय, पुष्पेंद्र सिंह, रामाशीष यादव, अभिषेक सिंह, दिग्विजय सिंह, राजेश सिंह, धर्मेंद्र गुप्ता, कुलभूषण त्रिपाठी, डॉ विनय भारद्वाज, मुकेश कुमार, अजय शंकर सिंह, शीतांशु वर्मा, ओंकार सिंह, रासबिहारी यादव आदि प्रमुख रहे।

3
Back to top button
error: Content is protected !!
Close