अपराधउत्तर प्रदेशताजा ख़बरेंदेशबड़ी ख़बरेंबलियाब्रेकिंग न्यूजराज्य

प्राथमिक विद्यालय कोटवारी मिड डे मील मामले में अध्यापक निलंबित,एक महीने से नहीं बन रहा था स्कूल में खाना

परफेक्ट 24 न्यूज के खबर का हुआ असर

प्राथमिक विद्यालय कोटवारी मिड डे मील मामले में अध्यापक निलंबित, एक महीने से नहीं बन रहा था स्कूल में खाना

God grace school bhore gopalganj
The infinity classes
Sanam computer cctv camera

• परफेक्ट 24 न्यूज के खबर का हुआ असर
रिपोर्ट: रवि आर्य
बलिया: बीएसए शिवनारायण सिंह ने शिक्षा क्षेत्र रसड़ा के प्राथमिक विद्यालय कोटवारी के सहायक अध्यापक नवीन कुमार जायसवाल को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है। इन पर सरकारी नियम के विपरीत कार्य करने का आरोप है। बीएसए ने प्रकरण की जांच खंड शिक्षा अधिकारी बांसडीह को सौपते हुए निर्देशित किया है 15 दिवस में पूरा कर अधोहस्ताक्षरी को रिपोर्ट दें।

2021-02-27
IMG-20220416-WA0010

बतादें कि परफेक्ट 24 न्यूज ने बीते मंगलवार को प्राथमिक विद्यालय कोटवारी के मिड डे मिल से संबंधित खबर को प्रमुखता से चलाया था, जिसको खंड शिक्षा अधिकारी रसड़ा से संज्ञान लेते हुए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को पत्र के माध्यम से अवगत कराया। मामले में खंड शिक्षा अधिकारी ने आख्या में बताया है कि विद्यालय के वरिष्ठ अध्यापक नवीन कुमार जायसवाल द्वारा बार-बार निर्देश के बाद भी विद्यालय का प्रभार नहीं लिया जा रहा है। यही नहीं, आदेश के क्रम में उनके द्वारा कुछ जबाब भी नहीं दिया जा रहा। इस वजह से विद्यालय का मिड डे मील सहित अन्य कार्य प्रभावित हो रहा है।

lucent mishrabatraha
IMG-20220415-WA0041

बीएसए ने बताया कि खंड शिक्षा अधिकारी की आख्या के आधार पर प्रथम दृष्टया दोषी पाये जाने पर नवीन कुमार जायसवाल, सहायक अध्यापक को सस्पेंड करते हुए शिक्षा क्षेत्र चिलकहर के कम्पोजिट विद्यालय चिलकहर से सम्बद्घ किया गया है। निलम्बन अवधि में नवीन कुमार जायसवाल को जीवन निर्वाह भत्ता की धनराशि देय होगी।

ये था पूरा मामला:
अध्यापक और प्रधान के चक्कर में भोजन के लिए भटक रहे बच्चे, हफ्तों से नहीं बन रहा प्राथमिक विद्यालय में भोजन
बलिया। परिषदीय विद्यालयों में मिड डे मील का लाभ छात्रों को नहीं मिल रहा है। परफेक्ट 24 न्यूज टीम ने कुछ परिषदीय विद्यालयों में मध्याह्न भोजन की हकीकत जाने की कोशिश की तो ज्ञात हुआ कि बच्चे भोजन करने घर गए हैं तो कुछ भूखे बच्चे विद्यालय में भटक रहे हैं।

बतादें कि रसड़ा तहसील क्षेत्र अंतर्गत ग्राम कोटवारी में प्राथमिक विद्यालय कोटवारी में मंगलवार को परफेक्ट 24 टीम ने प्राथमिक विद्यालय की मध्याह्न भोजन की हकीकत जानी। हकीकत हैरान कर देने वाली थी। टीम जब विद्यालय में प्रवेश की तो लॉन्च का समय चल रहा था। बच्चे दौड़ा दौड़ी कर खेल कूद कर रहे थे तो वहीं कुछ बच्चे निराश बैठे हुए थे। हम सबसे पहले रसोई घर के तरफ बढ़े तो रसोइया सुमन से मुलाकात हुई। जिनसे पूछा गया कि भोजन में क्या बना है तो उन्होंने हैरान कर देने वाली बात बताई।

सुमन ने बताया कि आज लगभग बीस दिनों से अधिक का समय हो गया है और विद्यालय में भोजन नहीं बन रहा है। हम लोग समय से आ जाती हैं लेकिन सामान मिलता ही नहीं कि भोजन बनाएं।

टीम कुछ आगे बढ़ी तो बच्चे मिले। उन बच्चों से पूछा गया कि आप लोगों को खाना मिला है तो बच्चों ने बताया कि नहीं, हम लोगों को खाना नहीं मिला है बल्कि आज ही नहीं कई दिनों से खाना नहीं मिल रहा है। इस संबंध में बच्चों से कुछ और जानना चाहा तो जानकारी मिली कि कुछ बच्चे अपने घर खाना खाने गए हैं तो कुछ घर से लाकर खाएं हैं। वहीं विद्यालय में देखा गया कि कुछ बच्चे बगैर खाना खाए उदास बैठे हुए थे।

विद्यालय के सहायक अध्यापक अखिलेश प्रसाद का कहना है कि हां ये सही बात है कि पिछले कई दिनों से विद्यालय में मिड डे मील का भोजन नहीं बन रहा है। बच्चों से कहा गया है कि वो अपना टिफिन घर से लेकर ही आएं।

अध्यापक अखिलेश ने यह भी कहा कि विद्यालय के प्रधानाचार्य के चार्ज पर देवेंद्र थे जो स्थानीय प्रधान के आपत्ति पर अपने चार्ज का परित्याग कर दिए। अभी कोई भी व्यक्ति चार्ज में नहीं है। एसडीआई साहब विद्यालय आए थे उन्होंने प्रधान से कहा कि अगर कोई दिक्कत नहीं हो तो देवेंद्र सर को रहने दीजिए। प्रधानाध्यापक भी नहीं आ रहे ,प्रधान भी नहीं आ रहे हैं। प्रधान कुछ दिनों तक मिड डे मील के तहत खाना बनवाए और फिर बंद कर दिए।

वहीं इस संबंध में खंड शिक्षा अधिकारी रसड़ा से टेलीफोनिक बात चीत करने का प्रयास किया गया तो बात चीत नहीं हो पाई क्योंकि अधिकारी महोदय ने फोन रिसीव नहीं किया।

3
Back to top button
Close